Breakup Shayari

Broken Heart Shayari || Broken Heart Shayari in Hindi

Broken Heart Shayari
Written by admin

Broken Heart Shayari – दोस्तो आज आप सभी के लिए दर्द भरी शायरी ले कर आ गए हैं दोस्तो ये Broken Heart Shayari 2021 की latest शयरियों  मे से हैं ये सभी शयरियों को पढ़ के आप को  जादा दर्द का अभव होगा ओर आप के  आंखो से आशु भी आ जाएंगे तो आप सभी लोग इसको  जरूर  पढे   ओर दिल थोडने वाले को जरूर भेजे ओर उसको अहसास दिलाये की दिल थोड़ के अच्छा नही किया

 

Broken Heart Shayari

 

रस्मों रिवाज की जो परवाह करते हैं
प्यार में वो लोग गुनाह करते हैं
इश्क वो जुनून है जिसमें दीवाने
अपनी खुशी से खुद को तबाह करते हैं

 

आदत नई हमे पीठ पीछे वार करने की
दो शब्द काम बोलते है पर सामने बोलते है

 

उम्र छोटी है तो क्या, ज़िंदगी का हरेक मंज़र देखा है
फरेबी मुस्कुराहटें देखी हैं, बगल में खंजर देखा

 

कल क्या खूब इश्क़ से मैने बदला लिया
कागज़ पर लिखा इश्क़ और उसे ज़ला दिया

 

जिंदगी की हक़ीकत सिर्फ इतनी होती है
जब जागता है इंसान तो किस्मत सोती है
इंसान जिस पर अपना हक़ खुद से ज्यादा समझता है
वो अमानत अक्सर किसी और की होती है

 

लोग कहते हैं किसी एक के चले जाने से जिन्दगी अधूरी नहीं होती,
लेकिन लाखों के मिल जाने से उस एक की कमी पूरी नहीं होती है

 

क़दर करलो उनकी जो तुमसे बिना मतलब की चाहत करते हैं
दुनिया में ख्याल रखने वाले कम और तकलीफ देने वाले ज़्यादा होते है

 

ये मत पूछ के एहसास की शिद्दत क्या थी
धूप ऐसी थी के साए को भी जलते देखा

 

बस तेरी यादों से ही है तारीफ मेरी
वर्ना ये सारा जहान तो मुझे अजनबी सा लगता है

 

प्यार में सबसे बड़ा खुशनसीब वह, जो झुक जाए
और सबसे बड़ा बदनसीब वह जो अकड़ जाए

 

इंतज़ार रहता है हर शाम तेरा
यादें कटती हैं ले-ले कर नाम तेरा
मुद्दत से बैठे हैं ये आस पाले कि
आज आयेगा कोई पैगाम तेरा

 

तेरे पास भी कम नहीं, मेरे पास भी बहुत हैं
ये परेशानियाँ आजकल फुरसत में बहुत हैं

 

अब जो मेरे न हो सको तो कुछ ऐसा कर देना
मैं जैसा पहले था मुझे फिर से वैसा कर देना

 

हीरों की बस्ती में हमने कांच ही कांच बटोरे हैं
कितने लिखे फ़साने फिर भी सारे कागज़ कोरे है

 

तुम लाख छुपाओ सीने में एहसास हमारी चाहत का
दिल जब भी तुम्हारा धड़का है आवाज यहां तक आई है

 

तू ज़ुल्म कहॉं तक ढायेगा देखें किस हद तक जायेगा
हॉं झूठ फ़ना होगा इक दिन और सच का अलम लहरायेगा

 

जिन्दगी की दौड़ में तजुर्बा कच्चा ही रह गया
हम सीख न पाये ‘फरेब’ और दिल बच्चा ही रह गया

 

मुस्करा कर देखो तो सारा जहा रंगीन है
वर्ना भीगी पलको से तो आईना भी धुधंला नजर आता है

 

उदासी, शाम, तन्हाई, यादे, बेचैनी
मुझे सब सौंपकर सुरज उतर जाता है पानी मे

 

सौ दर्द हैं महोब्बत में बस एक राहत हो तुम
नफ़रतें बहुत हैं जहाँ में बस एक चाहत हो तुम

 

एक तेरा नाम लेते ही
मेरे चेहरें पर मुस्कान आ जाती है
मै कितनी ही मुश्किल में क्यों ना हूं
मेरी जान में जान आ जाती है

 

वक़्त के मोड़ पे ये कैसा वक़्त आया है
ज़ख़्म दिल का ज़ुबाँ पर आया है
न रोते थे कभी काँटों की चुभन से
आज न जाने क्यों फूलों की खुशबू से रोना आया है

 

शीशे में डूब कर पीते रहे उस जाम को;
कोशिशें की बहुत मगर भुला न पाए तेरे एक नाम को

 

हमारी कद्र उनको होगी तन्हाईयो में एक दिन,
अभी तो बहुत लोग हैं उनके पास दिल्लगी करने को.

 

मुझ पर अपना इश्क यूँ ही उधार रहने दे
बड़ा हसीन है ये कर्ज मुझे अपना कर्जदार रहने दे

 

Broken Heart Shayari

जब BREAKUP होता है ,तब उसके चेहरे की हंसी टूट सी जाती है ,सांसे रूठ सी जाती है ,जीने की वजह ढूढने की कोशिश करते हैं  तो वो भी नही मिलती है। सुरू से जो ख्वाब देखे थे और उसने जो ख्वाब दिखाए थे ,वो जिसने हमे जीने की वजह दी थी, वो सब एक पल मे खतम हो गया।

तुम्हारा दिल मिरे दिल के बराबर हो नहीं सकता
वो शीशा हो नहीं सकता ये पत्थर हो नहीं सकता

 

मैंने सोचा था समझोगे तुम मेरे हालात
लेकिन तुमनें तो ख़्यालात ही बदल दिए

 

कोई खबर नही उनकों,क्या हम पर गुज़री है
अकेले तन्हा तन्हा रातेंदर्द बन कर सीने से उतरी है

 

एक खता हुई है हमसें, जो तेरा दीदार कर लिया
दुसरा तो गुनाह ही हो गया, जो तुमसें ही प्यार कर लिया

 

कितनी आसानी से कह दिया तुमने
की बस अब तुम मुझे भूल जाओ
साफ साफ लफ्जो मे कह दिया होता
की बहुत जी लिये अब तुम मर जाओ

 

ये मोहब्बत के हादसे अक्सर
दिलों को तोड़ देते हैं !
तुम मंजिल की बात करते हो
लोग राहों में ही साथ छोड़ देते हैं !

 

हर धड़कन में एक राज़ होता है;
बात को बताने का भी एक अंदाज़ होता है,
जब तक ना लगे ठोकर बेवाफ़ाई की,
हर किसी को अपने प्यार पर नाज़ होता है।

 

जिनकी याद में हम दीवाने हो गए,
वो हम ही से बेगाने हो गए,
शायद उन्हें तालाश है अब नये प्यार की,
क्यूंकि उनकी नज़र में हम पुराने हो गए|

 

मैं लोगों से मुलाक़ातों के लम्हें याद रखता हूँ!
मैं बातें भूल भी जाऊं पर लहज़े याद रखता हूँ!
जरा सा हट के चलता हूँ ज़माने की रवायत से
जो सहारा देते हैं वो कन्धे हमेशा याद रखता हूँ!!

 

मुझ को अब तुझ से भी मोहब्बत नहीं रही,
ऐ ज़िंदगी तेरी भी मुझे ज़रूरत नहीं रही,
बुझ गये अब उस के इंतेज़ार के वो जलते दिए,
कहीं भी आस–पास उस की आहट नहीं रही.

 

मुझे किसी के बदल जाने का गम नही ,
बस कोई था,
जिस पर खुद से ज्यादा भरोसा था !!

 

समझ न सके उन्हें हम,
क्योकि हम प्यार के नशे में चूर थे,
अब समझ में आया जिसपे हम जान लुटाते थे,
वो दिल तोड़ने के लिए मशहूर थे.

 

यूही किसी की याद मे रोना फ़िज़ूल है,
इतने अनमोल आसू खोना फ़िज़ूल है
रोना है, तो उनके लिये जो हम पे निसार है,
उनके लिये क्या रोना जिनके आशिक़ हज़ार है!!

 

लोग कहते हैं किसी एक के चले जाने से जिन्दगी अधूरी नहीं होती,
लेकिन लाखों के मिल जाने से उस एक की कमी पूरी नहीं होती है.

 

Broken Heart Shayari Hindi

 

नाराज़ क्यों होते हो चले जाएंगे तुम्हारी ज़िन्दगी से दूर
जरा टूटे दुए दिल के टुकड़े उठा लेने दो
Zakhmi Dil Shayari, टूटे दिल की शायरी

 

कभी उनके नाम के पहले हर बार आते थे
पर अब आलम ये हैं कि उनके सपनो में भी नहीं आते

 

ये क्या सितम है‍,क्यूं रात भर सिसकता है
वो कौन है जो “दियों” में जला रहा है मुझे

 

अंदर से तो कब के मर चुके है हम,
ए मौत तू भी आजा लोग सबूत मांगते है

 

जब कोई ख्वाब अधुरा रह जाते हैं !
तब दिल के दर्द आंसु बनकर बाहर आते हैं

 

उन्हें चाहना हमारी कमजोरी है
उनसे कह नही पाना हमारी मजबूरी है
वो क्यूँ नही समझते हमारी खामोशी को
क्या प्यार का इज़हार करना जरूरी है

 

कितना नादान है ये दिल कैसे समझाऊ
तू जिसे खोना नहीं चाहता हो तेरा होना नहीं चाहता

 

हायो रब्बा दिल जलता है झूठे सभी फसाने है
प्यार बाटने वाले देखो प्यार के कितने प्यासे है

 

छोड़ दो उसकी वफा की आस वो रुला सकता है
तो वो भुला भी सकता है

 

ज़ख़्म दे कर ना पूछा करो
दर्द की तुम शिद्दत, दर्द तो दर्द होता हैं,
थोड़ा क्या और ज्यादा क्या।????

 

वाह रे मोहब्बत बहुत जल्दी ख्याल आया मेरा
बस भी करो चूमना अब उठने दो जनाजा मेरा !!

 

जिसके याद में हम दीवाने हो गए
वो हमसे ही बेगाने हो गए
शायद उन्हें तलाश है नए प्यार की
क्युकी उनके नज़र में हम पुराने हो गए !!

 

ज़ुबान खामोश आंखो मे नमी होगी..!
यही “साहिल” की बस एक “दास्तान-ए-जिन्दगी” होगी..!!
भरने को तो हर ज़ख्म भर जायेंगे..!
कैसे भरेगी वो जगह,जहा तेरी कमी होगी..!!

 

किश्तों में खुदकुशी कर रही है ये जिन्दगी !
इँतज़ार तेरा मुझे पूरा मरने भी नही देता !!

 

मत करवाना मोहब्बत हर किसी को ए खुदा !
हर किसी में जीते जी मरने की ताक़त नही होती !!

 

कभी ग़म से दिल लगाया कभी अश्क के सहारे !
कभी शब गुजारी रो के कभी गिन के चाँद-तारे !!

 

उसके दिल मे थोडी सी जगह माँगी थी मुसाफिर की तरह !
उसने तो तन्हाईयो का पूरा शहर ही मेरे ऩाम कर दिया !!

 

बेहोश होकर बहुत भी जल्द तुझे होश आ गया !
मै बदनसीब होश मे होकर भी होश में आया नही अभी !!

 

आज इतना जहर पिला दो कि सांस तक रुक जाए मेरी !
सुना है कि सांस रुक जाए तो रूठे हुये भी देखने आते है !!

 

उसके_जाने_के_बाद_भी_अकेला_नहीं_हूँ_मैं !
बेबसी_उदासी_इंतज़ार_ना_जाने_क्या_क्या_है_मेरे_पास !!

 

याद हैं मुझे आज भी उसके आखिरी अल्फ़ाज़ !
जी सको तो जी लेना वरना मर जाओ तो बेहतर है !!

 

जा बेवफा जा मुझे प्यार नहीं करना !
तन्हा ही जिलेंगे जब है तन्हा मरना !!

 

रात गुमसुम हैं मगर चाँद खामोश नहीं !
कैसे कह दूँ फिर आज मुझे होश नहीं !
ऐसे डूबा तेरी आँखों के गहराई में आज !
हाथ में जाम हैं,मगर पिने का होश नहीं !!

 

देख तेरा दिया हुआ गुलाब कैसा रँग लाया है !
जो सज न सका तेरी डोली में आज मेरे जनाजे पे काम आया है !!

 

हमने इलाजे-ज़ख़्मे-दिल तो ढूँढ़ लिया, लेकिन !
गहरे ज़ख़्मों को भरने में वक़्त तो लगता है !!

 

उन्हो ने अपने लबो से लगाया और छोड़ दिया !
वे बोले इतना जहर काफी है तेरी मौत के लिए !!

 

एक ज़ख्म नही सारा वजूद ही ज़ख्मी है !
दर्द भी हैरान है कि उठूँ तो कहाँ से उठूँ !!

 

हमें दर्द के अंगारों पर चलने दो खामोश यूँ ही !
ज़ख्मों ने ज़ुबाँ खोली तो कितना कुछ कह जाएंगे !!

 

जब दिल टूटता है तो हर कोई कहता है कोई बात नहीं
तुम्हें इससे अच्छी मिल जाएगी Tute Dil ki Shayari

 

कुछ सवालों के जवाब वक़्त देता है
और जब वक़्त देता है वो लाजवाब होता है

 

ज़िन्दगी की रंग मच में अपना किरदार इतनी सित्दत से निभाओ
की पर्दा गिरने के बार भी तालियाँ बझ्ती रहें

 

ए फरिश्तों तकल्लुफ न करो लिखने का अब
लोगो को याद है सब खताएं एक दुसरे की

 

जिनको नहीं सुनना होता उन तक चीख पुकार भी नहीं पहुंचती
और जो सुनने वाले है वो तो खामोशियाँ भी सुन लेते है

 

कुछ बातें ज़बान तक नहीं आतें
और कुछ कान सुन नहीं पाते
और हकीकत में वही बातें बहुत एहम होती है
जो हम सुन नही पाते

 

Broken Heart Shayari 2021

 

अभी तक याद कर रहे हु पागल हु तुम कसम से
उसने तेरे बाद भी हजारों को भुला दिया

 

सामान बाँध किया है मैंने अब बताओ ग़ालिब
कहा रहते है वो जो लोग जो कही के नहीं रहेते

 

चुडा कर हाथ नरमी से यही कहती है मुझ को
अभी तक गैर मरहूम हूँ तुम्हारी कुछ नहीं लगती

 

बहुत देर लगी लेकिन ये जान गया
ज़रूरत होती है सब को ज़रूरत कि हद तक

 

मसे दिल से दिल तक का एहसास पुराना था,
पत्थर ले के तुम हाथ में बैठे थे,लगता है
आप का निशाना लगाने का अंदाज पुराना था,

 

क्या करूं आप को देखे बिना दिल को सकून नहीं आता,
पता है आप हमारे ना रहे अब,
पर दिल को ये यकीन ही नहीं होता

 

हम भी नादान थे जो दिल के बातो में आके आप को अपना बनाने चले आए,
हमें पता था आप हमें ठुकरा दोगे पर आप का दीदार करने चले आए,

 

दिल का बस इतना ही कसूर था मेरे,
हमने उसे अपना समझा जो कभी था ही नहीं मेरा,

 

अब हमें उनका हाल किसी और से पूछना पड़ता है,
जो जुबान खुलने से पहले अपना हाल बयान करते थे,

 

बदला नहीं है मेरा दिल यकीन नहीं तो आ के देख ले,
बस इसे दुनिया समझने की समझ आ गई है,

 

तुमने हमें ब्लॉक कर दिया इसका मतलब ये तो नहीं के हमारा रिश्ता ख़तम हो गया,
बस प्रोफ़ाइल पिक्चर नहीं दिखी पर दिल में बसे पिक्चर का क्या होगा,

 

आप से पहली मुलाकात इत्तेफाक था बिछड़ना तो हमारा नसीब था,
इतना दूर हो गया वो मुझसे जितना मेरे पास था,

 

कम से कम कोशिश तो करते थोडी बहुत,
हम दोनों का मिलना मिलाना तो खुदा के हाथ था,

 

मेरा तो इरादा था मारने का तुम पर,
क्या तुम हमें अपने सीने में दफनाते,

 

ये तो तेरे प्यार की मेहरबानी है जो मुझे सीखा गया,
वरना मुझे तो ठीक से रोना भी नहीं आता था,

 

संग-दिलों की ये दुनिया है:
सँभल के चलना यहाँ दोस्त:
यहाँ बिठाया पलकों पे जाता है:
गिराने के लिए नज़रों से।

 

चाहा उसे मैंने जिसे में पा न सका:
हो कर दूर भी उसे भुला न सका:
प्यार कितना करता था उससे:
एहसास इस बात का उसे दिला न सका

 

मिल जाते एक तुम बस इतना काफ़ी था:
तलबगार सारी दुनिया के नहीं थे हम।

 

किया प्यार बदनाम हो गए:
हमारे चर्चे सरे-आम हो गए:
दिल ज़ालिम ने उस वक़्त तोड़ा:
हम उसके जब गुलाम हो गए।

 

नाम तक मेरा मिटा दो किताब-ए-ज़िन्दगी से तुम:
पल-पल रुलाएगी और सताएगी कमी मेरी।

 

घुटन के साँसों पे पहरे है:
धड़के भी दिल तो कैसे धड़के

 

बहुत कुछ लुटा चुका हूँ :
जिंदगी में अपनी यारो:
वो जज्बात तो मेरे ना लूटो:
लिखकर जो बयाँ करता हूँ।

 

घर वो बसायेगी जाकर किसी गैर का;
मेरी तो उजड़ने दुनियाँ ही लगी है

 

हो गया है अम्बुलने सा ये जिस्म:
घायल दिल को लिए सारा दिन फिरते है;

 

प्यार का इज़हार शान से करेंगे:
मोहब्बत पे तेरी जान भी निसार करेंगे:
जलेगी देख के ये दुनिया सारी:
तुझ पे इस कदर ऐतबार करेंगे

 

था तोह कसूर ही इन निगाहों का:
चुपके से जो दीदार कर बैठा:
खामोश रहने की तो हमने ठानी थी:
पर ये ज़ुबान बेवफा इज़हार कर बैठा

 

हूँ तेरा दीवाना मुझे इनकार नहीं:
कह दूँ कैसे कि तुमसे मुझे प्यार नहीं:
शरारत तो कुछ तेरी नज़रों में भी थी:
अकेला ही मैं तो इसका गुनहगार नहीं

 

क्या है प्यार न तुम पूछो मुझसे
बताने से क्या मान जाओ गे
बताने से यूं फायदा भी नहीं
देखो कर के तो जान जाओ गे

 

अपना हर दर्द ज़िन्दगी से छुपा लेना:
न मिले ख़ुशी तो गले गम लगा लेना:
कहे अगर कोई मोहब्बत आसान होती है:
तो मेरा टूटा हुआ दिल उसे दिखा देना

 

Latest Shayari पाने के लिए हमारे Facebook page को like करे. अगर आपको Broken Heart Shayari || Broken Heart Shayari in Hindi || Broken Heart Shayari || Broken Heart Shayari 2021 || Broken Heart Shayari hindi पसंद आये तो इसे अपनी प्रियजनों को शेयर करे. और हमें comment box में comment करे

About the author

admin

Leave a Comment