Breakup Shayari

Alone Status || Alone Status in Hindi

Alone Status
Written by admin

Alone Status in Hindi – आज हम आपके साथ TOP Feeling Alone Whatsapp Status शेयर कर रहे हैं। यहाँ हम अकेले होने पर समझदार और प्रेरणादायक उद्धरण के साथ कुछ अकेले स्थिति और अकेले उद्धरण share कर रहे हैं।

दोस्तो जब भी आप का दिल टूटता हैं ओर आप अकेला महसूस करते हैं तब आप ये status जरूर पढे ओर उनको भी जरूर भेजे इनकी वजह से आप अकेला महसूस कर रहे हैं

आज हम आप के लिए Alone Status in Hindi मे लेकर आए हैं आप इन Alone status को पढ़ के राहत मिलेगी ओर साथ ही साथ  Alone Status in Hindi for boyfriend, Alone Status in Hindi, Alone Status in Hindi for gf भी आप सभी के लिए share कर रहे हैं

दोस्तो आज हम alone status 2021 का latest collection लेकर आए हैं ओर इस पोस्ट को update कर रहे हैं उम्मीद हैं ये latest alone status आप को बहुत पसंद आयेगा

 

Alone Status in Hindi 2021

 

Alone Status in Hindi

Alone Status in Hindi

 

Alone Status in Hindi

Alone Status in Hindi

 

ऐसा नहीं था की दिल में तेरी तस्वीर नहीं थी,
बस इतना समझ लो की
हाथो में तेरे नाम की लकीर नहीं थी….

 

वो जिसकी याद मे हमने
खर्च दी जिन्दगी अपनी।
वो शख्श आज मुझको
गरीब कह के चला गया ।

 

न पूछो हालत मेरी रूसवाई के बाद,
मंजिल खो गयी है मेरी, जुदाई के बाद,
नजर को घेरती है हरपल घटा यादों की,
गुमनाम हो गया हूँ गम-ए-तन्हाई के बाद!!

 

मुझ को अब तुझ से भी मोहब्बत नहीं रही,
ऐ ज़िंदगी तेरी भी मुझे ज़रूरत नहीं रही,
बुझ गये अब उस के इंतेज़ार के वो जलते दिए,
कहीं भी आस-पास उस की आहट नहीं रही|

 

तू भुला दे मुझे इस बात का शिक़वा नही,
तू ने मुझे रुलाया इस बात का कोई गिला नही,
जिस दिन हमने तुझे भुला दिया,
बस तभी समझ लेना कि दुनिया मे हम नहीं।

 

कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये,
दुनिया खड़ी है राह में दीवार की तरह,
वो बेवफ़ाई करके भी शर्मिंदा ना हुए,
सजाएं मिली हमें गुनहगार की तरह।

 

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी।

 

हम जानते है आप जीते हो जमाने के लिए,
एक बार तो जीके देखो सिर्फ हमारे लिए,
इस नाचीज़ की दिल क्या चीज़ है,
हम तो जान भी देदेंगे आप को पाने के लिए।

 

हर पल साथ देने का वादा करते हैं तुझसे,
क्यों अपनापन इतना ज्यादा है तुझसे,
कभी ये मत सोचना भूल जायेंगे तुझे हम,
हर पल साथ निभाने का वादा है तुझसे।

 

हकीकत जान लो जुदा होने से पहले,
मेरी सुन लो अपनी सुनाने से पहले,
ये सोच लेना भुलाने से पहले,
बहुत रोई हैं आँखें मुस्कुराने से पहले.

 

एक उम्र भर की जुदाई मेरे नसीब में करके,
वो तो चला गया बातें अजीब करके,
तर्ज ए वफा को उसकी क्या नाम दूं,
खुद तो दूर चला गया मुझे करीब करके।

 

न जाने क्या कमी है मुझमे,
और न जाने क्या खूबी है उसमे,
वो मुझे याद नहीं करती,
और मैं उसे भुला नहीं पाता

 

ऐ बेवफा सांस लेने से तेरी याद आती है,
ऐ बेवफा सांस न लूँ तो भी मेरी जान जाती है,
मैं कैसे कह दूं कि बस मैं सांस से जिंदा हूँ,
ये सांस भी तो तेरी याद आने के बाद आती है।

 

मोहब्बत ऐसी थी कि उनको बता न सके,
चोट दिल पे थी इसलिए दिखा न सके,
हम चाहते तो नही थे उनसे दूर होना,
मगर दूरी इतनी थी उसे हम मिटा न सके।

 

जब कभी मोहब्बत ही नही की तो रोकते क्यों हो,
खामोशियों में मेरे लिए सोचते क्यों हो,
जब रास्ते हो गए अलग अब जाने दो मुझे,
कब लौटकर आओगे पूछते क्यों हो।

 

वो हम पर हर इल्ज़ाम लगाते हैं,
वो हर ख़ता हमे बताते है,
हम तो बस चुप रहतें है क्योंकि,
वो हम पे अपना हक जताते हैं।

 

व बात क्या करें जिसकी कोई खबर ना हो।
वो दुआ क्या करें जिसका कोई असर ना हो।
कैसे कह दे कि लग जाय हमारी उमर आपको।
क्या पता अगले पल हमारी उमर ना हो।

 

प्यार में मौत से डरता कोन है ।
प्यार हो जाता है करता कोन है।
आप जैसे यार पर हम तो क्या सारी दुनियां फिदा है।
लेकिन हमारी तरह आप पर मरता कौन है।

 

हमारे बिन अधूरे तुम रहोगे।
कभी चाहा किसी ने खुद तुम कहोगे।
हम ना होंगे तो ये आलम ना होगा।
मिलेंगे बहुत से पर हम सा कोई पगल ना होगा ।

 

चाहा था जिसको टूटकर आखिर चला गया,
इस दिल मोहब्बत का मुसाफिर चला गया,
बेरंग आज तक है ये तस्वीर प्यार की,
पूरा किये बगैर दिल से हमसफर चला गया।

 

तरस गए हैं एक झलक पाने के लिए,
बेगाने हो गए हैं सारे ज़माने के लिए,
तुझे किस्मत में नहीं लिखा खुदा ने शायद,
वर्ना क्या-क्या न किया तुझे पाने के लिए।

 

जिनकी तस्वीरे बनाकर खुश हुआ करते हैं,
आज वही बदले बदले लगने लगे हैं,
जो कभी हमारे दिल में रहा करते थे,
आज वही दूसरों के दिलों में रहा करते हैं।

 

तेरी ज़िन्दगी से एक दिन बहुत दूर चला जाऊंगा,
फिर लौट कर बापस कभी नही आऊंगा,
बस बहुत जी लीए वेबफाई के गम में,
अब किसी और को इस दिल में नही बसाऊंगा।

 

उनकी चाहत तो हम भी रखते हैं,
हो न हो लेकिन हम भी उनके दिल मे धड़कते हैं,
वो हमें याद करें या न करें,
लेकिन हम तो सिर्फ उनके लिए ही तड़पते हैं।

 

Alone Status in Hindi

 

बारिश के ‪बाद तार पर ‪टंगी ‪आख़री ‪‎बूंद से पूछना, क्या होता है ‪‎अकेलापन

 

मेरी हर सांसों में तू बसा है, मेरी हर ख़ुशी में तू बसा है
कुछ भी नहीं तेरे बिना मेरे ज़िन्दगी,
क्योकि मेरी पूरी ज़िन्दगी तुझ पर समा है|

 

तपिश से बच कर घटाओं में बैठ जाते हैं,
गए हुए की सदाओं में बैठ जाते हैं,
हम इर्द-गिर्द के मौसम से जब भी घबराये,
तेरे ख्याल की छांव में बैठ जाते हैं। I MISS YOU

 

इंतज़ार भी है उमीद भी है ☁️ वफ़ा भी है, बस तुमसे मिलने का नसीब नहीं |Missing Y❤️u

 

कहने को तो हम बहुत दूर है तुमसे..पर सच्ची बताऊंतुमसे करीब कोई नहीं है मेरे..

 

“जनाजा उठा है, आज कसमों का मेरी,
एक कन्धा तो तेरे वादों का भी बनता है ।”

 

अखबार तो रोज़ आता है घर में,
बस अपनों की ख़बर नहीं आती.

 

अगर रो कर भूलाएं
जाती यादें,
तो हंसकर कोई
गम ना छुपाता…

 

कैसे करूं मैं साबित… कि
तुम याद बहुत आते हो,
एहसास तुम समझते नहीं
और अदाएं हमें आती नहीं…

 

काश तुम्हें ख्वाब ही आ जाये,
की हम तुम्हे कितना याद करते है !!

 

नींद आये न आये रातों को,,
मग़र,,उनकी याद,,बराबर आती रहती है।।

 

“कुछ दिन खामोश होकर देखना,
लोग सच में भूल जाते है ।”.

 

बारिश के ‪बाद तार पर ‪टंगी ‪आख़री ‪‎बूंद से पूछना,
क्या होता है ‪‎अकेलापन

 

ये अजीब खेल चल रहा है मेरी ज़िन्दगी में
जहाँ ” याद ” का लफ्ज़ आ जाए ,
वहां तुम याद आ जाते हो।

 

कभी उनकी याद आती है कभी उनके ख्व़ाब आते हैं,
मुझे सताने के सलीके… तो उन्हें बेहिसाब आते हैं…

 

बहुत ही याद आता है मेरे दिल को तड़पाता है,
वो तेरा पास न होना मुझ को बहुत रुलाता है।

 

वो क्या जाने, यादों की कीमत,
जो ख़ुद यादों को मिटा दिया करते हैं,
यादो का मतलब तो उनसे पूछो जो,
यादों के सहारे जिया करते हैं।

 

सुनो तुम अपनी यादो को समझा लो जरा
मुझे तंग करती हैं एक कर्जदार की तरह।

 

कितनी हसीन हो जाती है उस वक़्त दुनिया,
जब अपना कोई कहता है तुम याद आ रहे हो।

 

गुजर रही है ये जिंदगी बड़े ही नाज़ुक दौर से ……!!!
मिलती नहीं तसल्ली तेरे सिवा किसी और से…..!!!

 

Alone Status

 

अजीब क़िस्सा है मेरी ज़िंदगी का भी दोस्तों चाहने वाले हज़ारों हैं,
दिल फिर भी मोहब्बत को तरसता है ।”

 

“गम हूँ, दर्द हूँ, साज हूँ, या आवाज हूँ,
बस जो भी हूँ, मैं तुम बिन बहुत उदास हूँ ।”

 

उसकी दर्द भरी आँखों ने जिस जगह कहा था,
अलविदा आज भी वही खड़ा है दिल उसके आने के इंतजार में

 

उसकी मोहब्बत पे मेरा हक़ तो नहीं लेकिन,
दिल करता है के उम्र भर उसकी इंतज़ार करूँ….

 

“तुझ पर आकर खत्म हो गई सरहदें प्यार की,
इसलिये अब शायद किसी और पे प्यार आता नहीं ।”

 

“गज़ब की धुप है शहर में फिर भी पता नहीं,
लोगों के दिल यहां क्यों नहीं पिघलते ।”

 

“पानी की तरह एक दिन तेरी आँखों से बह जाएंगे
हम राख बन चुके होंगे और आप ढूँढ़ते रह जाएंगे ।”

 

“बस एक बार दर्दे दिल को खत्म कर दो ऐ मेरे मालिक,
वादा करते हैं फिर कभी मौहब्बत नहीं करेंगें ।”

 

“दिल में उसकी चाहत और लबों पे उसका नाम है,
वो वफ़ा करे ना करे जिन्दगी अब उसी के नाम है ।”

 

जब सारी दुनिया सोती है,
तेरी यादें मुझ पर हावी होती है।

 

सब कुछ है लेकिन
उसके बिना सुकून नहीं है!!

 

तुझे फुर्सत कहाँ है चाहत वालो से बात करने की
वो हम है जो हर रात तेरी खैरियत की दुआ माँग के सोते हैं यारा

 

ये ठंडी सी रात तेरी याद दिलाती हैं
मुझसे दूर है तू फिर भी तेरी आहट सुनाती हैं

 

नींद पिछली सदी से ज़ख्मी है
ख़्वाब अगली सदी के देखते हैं

 

आप हमसे दूर क्या हुए
आपकी यादें हमारे क़रीब आने लगी….

 

जब भी तेरी याद आती है, तब मै अपने दिल पे हाथ रखता हूं..!
क्युकी मुझे पता है, तू कही नही मिले तो यहा जरुर मिलेगी .!!

 

कोई मरता नहीं किसी के लिए, यह सच है..
कोई जीता है मर मर के किसी के लिए, यह भी सच

 

Alone Status for Girls

 

जिसके नसीब मे हों ज़माने की ठोकरें,
उस बदनसीब से ना सहारों की बात कर।

 

बुला रहा है कौन मुझको उस तरफ,
मेरे लिए भी क्या कोई उदास बेक़रार है।

 

वो तेरे खत तेरी तस्वीर और सूखे फूल,
उदास करती हैं मुझ को निशानियाँ तेरी।

 

वह मेरा सब कुछ है पर मुक़द्दर नहीं,
काश वो मेरा कुछ न होता पर मुक़द्दर होता।

 

दिल को बुझाने का बहाना कोई दरकार तो था,
दुःख तो ये है तेरे दामन ने हवायें दी हैं।

 

मिल भी जाते हैं तो कतरा के निकल जाते हैं,
हैं मौसम की तरह लोग… बदल जाते हैं,
हम अभी तक हैं गिरफ्तार-ए-मोहब्बत यारों,
ठोकरें खा के सुना था कि संभल जाते हैं।

 

बेवक्त बेवजह बेसबब सी बेरुखी तेरी,
फिर भी बेइंतहा तुझे चाहने की बेबसी मेरी।

 

देखी है बेरुखी की आज हम ने इन्तेहाँ,
हमपे नजर पड़ी तो वो महफ़िल से उठ गए।

 

एक नजर भी देखना गंवारा नहीं उसे,
जरा सा भी एहसास हमारा नहीं उसे,
वो साहिल से देखते रहे डूबना हमारा,
हम भी खुद्दार थे पुकारा नहीं उसे।

 

काश वो समझते इस दिल की तड़प को,
तो हमें यूँ रुसवा न किया जाता,
यह बेरुखी भी उनकी मंज़ूर थी हमें,
बस एक बार हमें समझ तो लिया होता।

 

वह मेरा सब कुछ है पर मुक़द्दर नहीं,
काश वो मेरा कुछ न होता पर मुक़द्दर होता।

 

अपना लडना भी मोहब्बत है तुझे एल्म नही
चिल्लाती तुम रहे और मेरा गला बैठ गया..

 

ना जाने किस बात पे वो नाराज हैं हमसे,
ख्वाबों मे भी मिलता हूँ तो बात नही करती।

 

उजड़ जाते हैं सर से पाँव तक वो लोग जो,
किसी बेपरवाह से बे-पनाह मोहब्बत करते हैं।

 

उदास हूँ किसी की बेवफाई पर
वफाकही तो कर गए हो खुश रहो

 

सुनो कोई टूट रहा है तुम्हे एहसास दिलाते दिलाते,
सीख भी जाओ किसी की चाहत की कदर करना।

 

दिल को बुझाने का बहाना कोई दरकार तो था,
दुःख तो ये है तेरे दामन ने हवायें दी हैं।

 

तुम तो डर गये हमारी एक ही कसम से,
हमे तो तुम्हारी कसम देकर हजारो ने लूटा है।

 

अगर नींद आ जाये तो, सो भी लिया करो,
रातों को जागने से, मोहब्बत लौटा नहीं करती।

 

जब कभी फुर्सत मिले मेरे दिल का बोझ उतार दो,
मैं बहुत दिनों से उदास हूँ मुझे कोई शाम उधार दो।

 

हमने तुम्हें उस दिन से और भी ज़्यादा चाहा है,
जबसे मालूम हुआ तुम हमारे होना नही चाहते।

 

तुम्हारे बाद न तकमील हो सकी अपनी,
तुम्हारे बाद अधूरे तमाम ख्वाब लगे।

 

यकीन था कि तुम भूल जाओगे मुझको,
खुशी है कि तुम उम्मीद पर खरे उतरे।

 

Alone Status in Hindi 2021

 

अगर तुम समझ पाते मेरी चाहत की इन्तेहा,
तो हम तुमसे नहीं, तुम हमसे मोहब्बत करते।

 

कभी फुर्सत मिले तो सोचना जरूर,
एक लापरवाह लड़का क्यों तेरी परवाह करता था…

 

रहता तो नशा तेरी यादों का ही है,
कोई पूछे तो कह देता हूँ पी राखी है।

 

मत पूछ मुझे………, क्या गम है!
तेरे वादे पे ज़िंदा हूँ, क्या कम है!!

 

वो सोचती होगी बड़े चैन से सो रहा हूँ मैं,
उसे क्या पता ओढ़ के चादर रो रहा हूँ मैं।

 

मुझे जिस चिराग से प्यार था…
मेरा सब कुछ उसी ने जला दिया…

 

निकाल दिया उसने हमें अपनी जिंदगी से, भीगे कागज़ की तरह,
न लिखने के काबिल छोड़ा न जलने के।

 

हम तो नरम पत्तों की शाख़ हुआ करते थे,
छीले इतने गए कि “खंज़र ” हो गए…

 

वजह तक पूछने का मौका ही ना मिला,
बस लम्हे गुजरते गए और हम अजनबी होते गए।

 

निकले हम दुनिया की भीड़ में तो पता चला की…
हर वह शख्स अकेला है, जिसने मोहब्बत की है!

 

अब मोहब्बत नहीं रही इस जमाने में,
क्योंकि लोग अब मोहब्बत नहीं मज़ाक किया करते है।

 

पलकों की हद तोड़ के, दामन पे आ गिरा,
एक आसूं मेरे सब्र की, तोहीन कर गया।

 

अच्छा है आँसुओं का रंग नहीं होता,
वरना सुबह के तकिये रात का हाल बयां कर देते।

 

टूटे हुए दिल भी धड़कते है उम्र भर,
चाहे किसी की याद में या फिर किसी फ़रियाद में!!

 

टूट कर चाहना और फिर टूट जाना,
बात छोटी है मगर जान निकल जाती है।

 

हर दर्द का इलाज़ मिलता था जिस बाज़ार में,
मोहब्बत का नाम लिया तो दवाख़ाने बन्द हो गये!!

 

अभी एक टूटा तारा देखा, बिलकुल मेरे जैसा था,
चाँद को कोई फर्क न पड़ा, बिलकुल तेरे जैसा था।

 

छोड़कर अपनी यादों की निशानियां मेरे दिल में,
वो भी चले गये वक्त की तरह।

 

सजा ये है की बंजर जमीन हूँ मैं,
और जुल्म ये है की बारिशों से इश्क़ हो गया।

 

तरस आता है मुझे अपनी, मासूम सी पलकों पर,
जब भीग कर कहती हैं कि अब, रोया नहीं जाता।

 

फ़रियाद कर रही है तरसी हुई निगाहें,
किसी को देखे एक अरसा हो गया।

 

न ज़ख्म भरे, न शराब सहारा हुई,
न वो वापस लोटी, न मोहब्बत दोबारा हुई..

 

हमें देख कर जब उसने मुँह मोड़ लिया,
एक तसल्ली हो गयी चलो पहचानते तो हैं।

 

मैं तो रह लूंगा तुझसे बिछड़ कर तन्हा भी,
बस दिल का सोचता हूँ, कहीं धडकना न छोड़ दे!!

 

सिर्फ हम ही है तेरे दिल में,
बस यही गलतफहमी हमें बर्बाद कर गई।

 

छोड़ दिया हमने तेरे ख्यालों में जीना,
अब हम लोगों से नहीं, लोग हमसे मोहब्बत करते है।

 

मोहब्बत नही तो मुकदमा हि दायर कर दे जालिम,
तारीख दर तारीख तेरा दीदार तो होगा।

 

मुस्कुराने की आदत भी कितनी महँगी पड़ी हमे,
छोड़ गया वो ये सोच कर की हम जुदाई मे भी खुश हैं!!

 

दुआ करना दम भी उसी तरह निकले,
जिस तरह तेरे दिल से हम निकले।

 

तलब ऐसी कि अपनी सांसों में समा लू तुझे,
किस्मत ऐसी कि देखने को भी मोहताज हूँ तुझे!!

 

दर्द मुझको ढूंढ लेता है, रोज नए बहाने से,
वो हो गया वाकिफ़, मेरे हर ठिकाने से।

 

रहेगा किस्मत से यही गिला ज़िंदगी भर,
जिसको पल-पल चाहा उसी को पल-पल तरसे!!

 

कत्ल हुआ हमारा इस तरह किस्तों में,
कभी खंजर बदल गए, कभी कातिल बदल गए।

 

कल रात का आलम इस कदर था यारो,
उसकी यादों ने मेरी आँखो को सोने ना दिया!!

 

रात तकती रही आँखो में, दिल आरजू करता रहा,
कोई बे-सबर रोता रहा, कोई बे-खबर सोता रहा..!!

 

बहुत मासूम होते है ये आँसू भी,
ये गिरते उनके लिए है, जिन्हें परवाह नहीं होती।

 

खता उनकी भी नहीं है वो क्या करते,
हजारों चाहने वाले थे किस-किस से वफ़ा करते।

 

चले जायेंगे एक दिन, तुझे तेरे हाल पर छोड़कर…
कदर क्या होती हैं प्यार की, तुझे वक़्त ही सीखा देगा…

 

माफ़ी चाहता हूँ गुनेहगार हूँ तेरा ऐ दिल,
तुझे उसके हवाले किया जिसे तेरी कदर नहीं।

 

न जाने कौन सी साजिशों के हम शिकार हुए,
जितना साफ दिल रखा उतने ही हम दागदार हुए।

 

शायरी के लिए कुछ ख़ास नहीं चाहिए,
एक यार चाहिए और वो भी दगाबाज चाहिए।

 

लगता है मैं भूल चुका हूँ, मुस्कुराने का हुनर,
कोशिश जब भी करता हूँ, आँसू निकल आते हैं..!

 

शीशे में डूब कर, पीते रहे उस “जाम” को,
कोशिशें तो बहुत की मगर, भुला ना पाए एक “नाम” को।

 

Latest Shayari पाने के लिए हमारे Facebook page को like करे. अगर आपको Alone Status || Alone Status in Hindi || Alone Status in English || Alone Status 2021 || Alone Status for girls || Alone Status latest पसंद आये तो इसे अपनी प्रियजनों को शेयर करे. और हमें comment box में comment करे

About the author

admin

Leave a Comment