Breakup Shayari

Alone Shayari || Alone Shayari in Hindi and English

Alone Shayari
Written by admin

Alone Shayari in Hindi and English दोस्तो जब भी आप का दिल टूटता हैं ओर आप अकेला महसूस करते हैं तब आप ये शायरीय जरूर पढे ओर उनको भी जरूर भेजे इनकी वजह से आप अकेला महसूस कर रहे हैं

आज हम आप के लिए Alone Shayari in Hindi and English मे लेकर आए हैं आप इन Alone Shayari को पढ़ के राहत मिलेगी ओर साथ ही साथ Alone Sad Shayari for boyfriend, Alone Shayari in hindi, lonely Shayari in Hindi for girlfriend शायरीय भी आप सभी के लिए share कर रहे हैं

 

Alone Shayari

 

यूँ तो हर रंग का मौसम मुझसे वाकिफ है मगर,
रात की तन्हाई मुझे कुछ अलग ही जानती है।

 

जगमगाते शहर की रानाइयों में क्या न था,
ढूँढ़ने निकला था जिसको बस वही चेहरा न था,
हम वही, तुम भी वही, मौसम वही, मंज़र वही,
फ़ासले बढ़ जायेंगे इतने मैंने कभी सोचा न था।

 

मेरी पलकों का अब नींद से कोई ताल्लुक नही रहा,
मेरा कौन है ये सोचने में रात गुज़र जाती है…!!!

 

मोहब्बत मुकद्दर है कोई ख़्वाब नही।
ये वो अदा है जिसमें हर कोई कामयाब नही।
जिन्हें मिलती मंज़िल उंगलियों पे वो खुश है।
मगर जो पागल हुए उनका कोई हिसाब नही।

 

एक तुम्हीं थे जिसके दम पे चलती थी साँसें मेरी,
लौट आओ कि ज़िंदगी से वफ़ा निभाई नहीं जाती।

 

एक तेरे ना होने से बदल जाता है सब कुछ,
कल धूप भी दीवार पे पूरी नहीं उतरी।

 

मेरी लिखी किताब मेरे हाथो में देकर,
कहने लगे इसे पढा करो,
मोहब्बत करना सिख जाओगे।

 

मुझको मेरी तन्हाई से अब शिकायत नहीं है,
मैं पत्थर हूँ मुझे खुद से भी मोहब्बत नहीं है।

 

तुम जब आओगे तो खोया हुआ पाओगे मुझे,
मेरी तन्हाई में ख़्वाबों के सिवा कुछ भी नहीं,
मेरे कमरे को सजाने कि तमन्ना है तुम्हें,
मेरे कमरे में किताबों के सिवा कुछ भी नहीं।

 

तेरा बार बार रूठना मुझे अच्छा लगता है,
पर क्या तुझे भी मेरा मनाना अच्छा लगता है।।

 

दिल गया तो कोई आँखें भी ले जाता,
फ़क़त एक ही तस्वीर कहाँ तक देखूँ।

 

बहुत सोचा बहुत समझा,
बहुत ही देर तक परखा,
कि तन्हा हो के जी लेना,
मोहब्बत से तो बेहतर है।

 

ए ज़िन्दगी एक बार तू नज़दीक आ तन्हा हूँ मैं,
या दूर से फिर दे कोई सदा तन्हा हूँ मैं,
दुनिया की महफ़िल मैं कहीं मैं हूँ भी या नहीं,
एक उम्र से इस सोच में डूबा हुआ हूँ मैं।

 

अभी ज़िंदा हूँ, लेकिन
सोचता रहता हूँ अकेले में,
कि अब तक किस तमन्ना के
सहारे जी लिया मैंने।

 

एक तुम्हीं थे जिसके दम पे चलती थी साँसें मेरी,
लौट आओ कि ज़िंदगी से वफ़ा निभाई नहीं जाती।

 

कभी जब गौर से देखोगे तो इतना जान जाओगे,
कि तुम्हारे बिन हर लम्हा हमारी जान लेता है।

 

हज़ारो बातें मिल कर एक राज़ बनता है,
सात सुरों के मिलने से साज़ बनता है,
आशिक़ के मरने पर कफ़न भी नहीं मिलता,
और हसीनाओ के मरने पर ताज़ बनता है।

 

पूछा था हाल उन्होंने बड़ी मुदद्तों के बाद,
कुछ गिर गया है आँख में कह कर हम रो पड़े।

 

ख़ुदा करे कि इस दिल की आवाज़ में
इतना असर हो जाए,
जिसकी याद में तड़प रहे हैं हम
उसे ख़बर हो जाए…

 

उसकी आरज़ू अब खो गयी है,
खामोशियों की आदत सी हो गयी है,
न शिकवा रहा न शिकायत किसी से,
बस एक मोहब्बत है,
जो इन तन्हाइयों से हो गई है।

 

कोई रफ़ीक़ न रहबर न कोई रहगुज़र,
उड़ा के लाई है किस शहर में हवा मुझको।

 

कितना दर्द है इस दिल में लेकिन हमे एहसास नही है,
कोई था बहुत खास पर वो पास नही है,
हमे उनके इश्क ने बर्बाद कर दिया,
और वो कहते है की ये कोई प्यार नही है।

 

कैसे गुजरती है मेरी
हर एक शाम तुम्हारे बगैर,
अगर तुम देख लेते तो
कभी तन्हा न छोड़ते मुझे।

 

चाहते थे जिसको हम उसके दिल बदल गए,
समुंदर तो वाही था लेकिन साहिल बदल गए,
क़त्ल ऐसा हुवा हर बार किस्तों में मेरा,
कभी खंजर बदल गुए तो कभी कातिल बदल गए।

 

Alone Shayari in Hindi

 

वहां से बिगड़ी है ज़िंदगी मेरी
जहाँ से साथ तुमने छोड़ा था

 

हर वक़्त का हँसना तुझे बर्बाद न कर दे
तन्हाई के लम्हे में कभी रो भी लिया कर

 

हम अपनी हस्ती मिटा कर भी तनहा हैं
सब कुछ लुटा कर भी तनहा हैं

 

मुझसे नाराज है तो छोड़ दे तन्हा मुझको
ए ज़िन्दगी मेरा रोज़ रोज़ तमशा न बनाया कर

 

किसी का हाथ कैसे थाम लूँ
वो तनहा मिल गयी तो क्या कहूंगा

 

ज़िन्दगी यूँ हुई बसर तन्हा
काफिला साथ और सफ़र तनहा

 

यह मत कहना कि तेरी याद से रिश्ता नहीं रखा
मैं खुद तनहा रहा मगर दिल को तनहा नहीं रखा

 

अंगड़ाई पर अंगड़ाई लेती है रात जुदाई की
तुम क्या समझो तुम क्या जानो मेरी बात तन्हाई की

 

तन्हाई सौ गुनी बेहतर है
झूठे वादों से झूटों लोगों से

 

इस तरह हम सुकून को महफूज कर लेते हैं
जब भी तनहा होते हैं तुम्हे महसूस कर लेते हैं

 

तुम तन्हा रहने का सोचना भी मत
मैं तुम्हारा वक़्त हूँ साथ साथ चलूँगा

 

मेरे इश्क़ के तरीके बेहद जुदा हैं
औरों से मुझे तनहा होने पर भी
इश्क़ करना आता है तुमसे

 

जब रहना है तनहा तो फिर रोना कैसा
जो था ही नहीं अपना उसे खोना किसा

 

पल पल रोना सिखा दिया तुमने
अच्छा हु भुला दिया तुमने

 

lonely Shayari in Hindi for girlfriend

 

एक पल का एहसास बनकर आते हो तुम,
दूसरे ही पल खुवाब बनकर उड़ जाते हो तुम,
जानते हो की लगता है डर तन्हाइयों से,
फिर भी बार बार तनहा छोड़ जाते हो तुम।

 

वक्त के बदल जाने से इतनी तकलीफ नही होती है,
जितनी किसी अपने के बदल जाने से तकलीफ होती है।

 

तेरे बिना ज़िंदगी अधूरी है यारा,
तुम मिल जाओ तो ज़िंदगी पूरी है यारा,
तेरे साथ ज़िंदगी की सारी खुशिया,
दुसरो के साथ हसना तो मज़बूरी है यारा ।।

 

दिन हुआ है, तो रात भी होगी,
मत हो उदास, उससे कभी बात भी होगी।
वो प्यार है ही इतना प्यारा,
ज़िंदगी रही तो मुलाकात भी होगी।

 

सोचते थे की नजर अंदाज़ करेंगे उसे उसी की तरह,
पर नहीं कर सके वो जुल्म जिसका दर्द सिर्फ हम जानते है।

 

मेरी आवाज उसे सुनाई नहीं देती,
अब तो कोई उम्मीद भी दिखाई नहीं देती,
एहसास उसे और सब लोगों का है,
बस मेरी ही तन्हाई उसे दिखाई नहीं देती।

 

ज़ख़्म खरीद लाया हूं बाज़ार-ए-इश्क़ से,
दिल ज़िद कर रहा था मुझे इश्क चाहिए।

 

आग लगी दिल में जब वो खफ़ा हुए,
एहसास हुआ तब, जब वो जुदा हुए,
करके वफ़ा वो हमे कुछ दे न सके,
लेकिन दे गये बहुत कुछ जब वो वेबफा हुए।

 

कहने लगी है अब तो मेरी तन्हाई भी मुझसे,
मुझसे कर लो मोहब्बत मैं तो बेवफा भी नहीं।

 

कितनी अजीब है इस शहर की तन्हाई भी,
हजारों लोग हैं मगर कोई उस जैसा नहीं है।

 

हर शख्स मुझे ज़िन्दगी जीने का तरीका बताता है,
उन्हें कैसे समझाऊँ की एक खुवाब अधुरा है मेरा,
वरना जीना तो मुझे भी आता है।

 

चला जाऊंगा जैसे खुद को तनहा छोड़ कर,
मैं अपने आपको रातों में उठकर देख लेता हूँ।

 

दिल का हाल बताना नही आता,
हमे ऐसे किसी को तड़पाना नही आता,
सुनना तो चाहतें हैं हम उनकी आवाज़ को,
पर हमे कोई बात करने का बहाना नही आता।

 

हम तो जल गए यारों की मोहब्बत में मूम की तरह,
अगर फिर भी कोई हमें बेवफा कहे तो उसकी वफ़ा को सलाम अपना।

 

कभी घबरा गया होगा दिल तन्हाई में उनका,
मेरी तस्वीर को सीने से लगा कर सो गए होंगे।

 

ना शौक दीदार का . . . ना फिक्र जुदाई की,
बड़े खुश नसीब है वो लोग जो . . .मोहब्बत नहीं करते।

 

मत रहो दूर हमसे इतना के अपने फैसले पर अफ़सोस हो जाये,
कल को शायद ऐसी मुलाकात हो हमारी,
के आप हमसे लिपटकर रोये और हम खामोश हो जाये।

 

क्या कहें बिन तेरे ये ज़िन्दगी है कैसी,
दिल को जलती ये बेबसी है कैसी,
ना कह पाते है ना सह पाते है,
ना जाने तकदीर मैं लिखी ये आशिकी है कैसी।

 

झूठ कहूँ तो बहुत कुछ है मेरे पास,
सच कहूँ तो कुछ नही सिवा तेरे मेरे पास।

 

काश तू समझ सकती मोहब्बत के उसूलों को,
किसी की साँसों में समाकर उसे तन्हा नहीं करते।

 

क्या करेंगे महफिलों में हम बता,
मेरा दिल रहता है काफिलों में अकेला।

 

घर बना कर मेरे दिल में वो छोड़ गया,
न खुद रहता है न किसी और को बसने देता है।

 

हर वक़्त का हंसना तुझे बर्बाद ना कर दे,
​तन्हाई के लम्हों में, कभी रो भी लिया कर।

 

उसे पाना उसे खोना उसी के हिज्र में रोना,
यही गर इश्क है तो हम तन्हा ही अच्छे हैं।

 

कितनी फ़िक्र है कुदरत को मेरी तन्हाई की,
जागते रहते हैं रात भर सितारे मेरे लिए।

 

जरुरत जब भी थी मुझको किसी के साथ की,
उन्हीं मखसूस लम्हों में मुझे छोड़ा है अपनों ने।

 

रोते हैं तनहा देख कर मुझको वो रास्ते,
जिन पे तेरे बग़ैर मैं गुजरा कभी न था।

 

तुम्हारे बगैर ये वक्त ये दिन और ये रात,
गुजर तो जाते हैं मगर गुजारे नहीं जाते।

 

ये झूठ है के मुहब्बत किसी का दिल तोड़ती है,
लोग खुद ही टुट जाते है मुहब्बत करते-करते।

 

न ढूंढ मेरा किरदार दुनिया की भीड़ में,
वफादार तो हमेशा तन्हा ही मिलते हैं।

 

दिल को आता है जब भी ख्याल उनका,
तस्वीर से पूछते हैं फिर हाल उनका।

 

तन्हाई रही साथ ता-जिंदगी मेरे,
शिकवा नहीं कि कोई साथ न रहा।

 

तेरा पहलू तेरे दिल की तरह आबाद रहे,
तुझपे गुज़रे न क़यामत शब-ए-तन्हाई की।

 

Alone Shayari in English

 

I Restore Myself When I’ Alone.

 

Time To Be Strong, To Walk Alone.

 

I Am Tired Of Waiting For Nothing.

 

Some Walks You Have To Take Alone.

 

It’s Too Hard To Stay Alone In Life.

 

I Am Tired Of Falling In Love Alone.

 

Just Leave Me Alone. I Know What To Do. ( Alone Quotes )

 

I’M Not Alone But I Am Lonely Without You.

 

I’M Not Alone. I Have My Imaginary Friends.

 

They Will Ignore You, Until They Need You.

 

Kuchh To Tanhai Ki Raaton Mein Sahara Hota,
Tum Na Hote Na Sahi… Zikr Tumhara Hota.

 

Use Pana Use Khona… Usi Ke Hijr Mein Rona,
Yahi Gar Ishq Hai To… Ham Tanha Hi Achchhe Hain.

 

Yoon Bhi Hua Raat Ko Jab Sab So Gaye,
Tanhai Aur Main Teri Baton Mein Kho Gaye.

 

Tere Bagair Is Mausam Mein Wo Maja Kahan,
Kaanton Ki Tarah Chubhti Hain Barish Ki Boonden.

 

Aye Zindagi Ek Baar Tu Nazdeek Aa Tanha Hoon Main,
Yaa Door Se Phir De Koi Sada Tanha Hoon Main,
Duniya Ki Mehfil Main Kahin Main Hoon Bhi Ya Nahi,
Ek Umr Se Is Soch Main Dooba Hua Hoon Main.

 

Usey Pana Usey Khona Usi Ke Hijr Mein Rona,
Yahi Gar Ishq Hai To Hum Tanha Hi Achchhe Hain.

 

Khwab Boye The Akelapan Kata Hai,
Iss Mohabbat Mein Yaaron Bahut Ghata Hai.

 

Tum Se Bichhad Ke Kuchh Yoon Waqt Gujara,
Kabhi Zindagi Ko Tarse Kabhi Maut Ko Pukara.

 

Ek Raat Kya Gujari Teri Tanhai Mein,
Gujar Gayin Hajaaon Barishein Aankhon Se.

 

Abhi Abhi Woh Mila Tha Hajaar Baatein Ki,
Abhi Abhi Woh Gaya Hai Magar Zamana Hua.

 

Latest Shayari पाने के लिए हमारे Facebook page को like करे. अगर आपको Alone Shayari || Alone Shayari in Hindi || Alone Shayari in English || Alone Shayari 2021 || Alone Shayari English || Alone Shayari hindi पसंद आये तो इसे अपनी प्रियजनों को शेयर करे. और हमें comment box में comment करे

About the author

admin

Leave a Comment